मिर्गी रोग(epilepsy)

  1. सौ ग्राम पुराना सिरका सौ ग्राम अकरकरा को पिछले 5 ग्राम दवा शहद के साथ प्रातः काल चढ़ावे मिर्गी रोग दूर होगा|
  2. बच का चूर्ण 1 ग्राम प्रतिदिन शहद के साथ चाटने से मिर्गी आना बंद होता है|
Advertisements